SEO एक ऐसी technique है जो की आपकी वेबसाइट को Google के पहले SERP (Search Engine Result Pages) पे लाने में मदद करता है.

आजकल जैसा की आप सब को पता है एक छोटी सी छोटी दुकान भी Online पे उतर गयी है या तो वो किसी बड़े portals से जुड़ा हुआ होगा जैसे की Justdial, Indiamart ya Makemytrip se. ऐसे में हर कोई चाहता है वो ज्यादा से ज्यादा मुनाफा कमाए Online से.

लेकिन इस Online की दुनिया में lead हमेशा वो कर जाता है जिसे Online marketing का सही मतलब पता हो जैसा की हम आपको इस ब्लॉग में बताने वाले है.

जैसा की आप सभी जानते है Google दुनिया का सबसे बड़ा Search Engine है| हर रोज यहाँ पे आप सब कुछ न कुछ Search करते रहते है अपनी query से related। आप सबने कभी ध्यान दिया है की जो Google के टॉप पे जो sites आती है वो कैसे आती है| ये सब Possible है SEO Technique से। जी हाँ SEO ऐसा माध्यम है जिससे आप अपनी वेबसाइट को Google के टॉप पे रैंक करा सकते हो और अपने Business को grow कर सकते हो.

ये SEO Technique सिर्फ Business related websites के लिए ही नहीं बल्कि Earn money Online Blogs के लिए भी Use होता है.

चलिए आज हम इस Blog में जानेंगे SEO क्या है Hindi में.

SEO क्या है?

SEO एक ऐसा Process है जिससे आप Targeted traffic अपनी वेबसाइट में ला सकते हो Search Engine Ranking के मध्यम से। SEO की मदद से आप अपनी site की Organic Reach बढ़ा सकते हो SERP (Search Engine Result Pages) मे.


SERP (Search Engine Result Pages) क्या है?

अब आप सोच रहे होंगे की ये SERP (Search Engine Result Pages) है क्या?

SERP बहुत सारे Pages की listing को बोला जाता है जो की Display होता है Search Engine के द्वारा अगर कोई User अपनी Query लिखता है Search bar में.

ये SERP कैसे Generate होता है ?

SERP कैसे Generate होता है

ये समझने के लिए आपको पहले ये देखना होगा की Search Engine काम कैसे करता है

  • Crawling: जब कोई Search Engine अपने Bot को Web Pages पे भेजता है उसकी Information लेने  के लिए. 
  • Indexing: यह एक तरह का Database है Search Engine का जहाँ पर सारी Websites का data होता है. अगर कोई वेबसाइट Search Engine Index में नहीं है इसका मतलब User उसे कभी भी नहीं देख पाएगा SERP में.
  • Pulling Results: आखिर में User को उसकी query से related websites दिखाई जाती है जो Search Engine ने index करी हुई हो. 

Search Engine हमेशा उन्ही websites को टॉप पे दिखता है जो Fully On Page & Off Page SEO Optimized होती है.


SEO की Full Form क्या है?

SEO की Full form Search Engine Optimization है.


Types of SEO in Hindi:

SEO दो तरह के होते है:

  • On Page SEO
  • Off Page SEO

जानिये On Page SEO हिंदी में

SEO का सबसे पहला चरण On Page SEO से  होता है |

जितनी भी चीज़े Website के Internally Implement होती है वेबसाइट की visibility बढना के लिए उसको On Page SEO कहते है |

Title Tags, Meta Optimization, Content Optimization, URL structure, internal linking ये सबसे common task होते है On-Page SEO के.


On Page SEO कैसे करें:

नीचे दिए गए कुछ महत्यपूर्ण On Page tasks है जिसे हम प्रत्येक वेबसाइट के लिए इस्तेमाल करते है |

Website Speed

Users और Google दोनों को ही ऐसी Websites से प्यार होता है जो कम से कम टाइम पे अच्छे से Load हो जाए और Google खुद ये indicate करता है Page speed सबसे बड़ा factor है Websites की Search Engine Ranking के लिए।

एक्सपर्ट्स भी recommend करते है की Sites कम से कम 3 सेकण्ड्स में लोड हो जानी चाहिए

टिप्स:

  • हमेशा Light weight Themes का इस्तेमाल करें
  • अगर आप CMS Platform इस्तेमाल करते हो जैसे की WordPress तो कम Plugins का इस्तेमाल करें
  • Website में images का size कम रखें बिना quality खोये
  • Minify CSS, Javascript & HTML
  • Leverage Browser Caching
  • हमेशा अच्छी होस्टिंग का चुनाव करे जिसका Server Response Time काफी अच्छा हो
Website Speed कैसे जाचें?

Website की Speed देखने के लिए बहुत सारे Online tools available है लेकिन नीचे दिए गए Tools सबसे ज्यादा एक्सपर्ट्स Use करते है :

  • Google PageSpeed Insight:

https://developers.google.com/speed/pagespeed/insights/

  • Gtmetrix:

https://gtmetrix.com/


Mobile Friendly site बनाये

Google सबसे ज्यादा ध्यान Mobile first index पे करता है अगर आपकी साइट Mobile friendly है तो आपको चिंता करने की जरुरत नहीं है।

आपको नाम से लग रहा होगा की Mobile first index सिर्फ Mobile indexing के लिए होगा लेकिन ऐसा नहीं है अगर आपकी वेबसाइट Mobile friendly नहीं है तो इसका सारा गलत impact आपकी website पे पड़ेगा चाहे आपकी site desktop के लिए भले ही अच्छी हो.

Broadbandsearch.net वेबसाइट के मुताबिक़ पिछले सात सालों में अकेले Mobile से सर्च करने वालों की संख्या 222% बढ़ी है और हर साल इसकी संख्या बढ़ती ही जा रही है जैसे जैसे Technology grow करती जा रही है.

इसलिए हमें वेबसाइट को Mobile के according भी बनानी चाहिए| नीचे दिए गए tool की मदद से आप पता लगा सकते है की आपकी वेबसाइट Mobile-friendly है या नहीं.

https://search.google.com/test/mobile-friendly

Title Tag, Meta Description

अपनी Web pages में हमेशा अच्छे Title tag और Meta Description का use करें इससे आपकी site पे ज्यादा से ज्यादा click होँगे SERP (Search Engine Result Pages) में और आपका CTR (Click Through Rate) भी काफी अच्छा होगा.

Title Tag और Meta Description वेबसाइट रैंक लाने में मदद नहीं करता लेकिन यह Text Snippet की तरह show होता है आपकी Listing के नीचे SERP में इसलिए ये हमेशा User को क्लिक करने के लिए लुभाता है अगर आपका Meta Description अच्छा हो तो ।

अब बहुत सारे ये सोच रहे होँगे की जब Meta Description & Title tag रैंकिंग लाने में मदद नहीं करते फिर हम इसे Use क्यों करें तो आप ये सोचना छोड़ दीजिये और अपने Conversion factor और CTR के बारे में सोचें जो आप इसकी मदद से अच्छा कर सकते है|

टिप्स:

  • अपने main keywords को हमेशा Title Tag में use करें
  • हमेशा Title Tag को 50 से  60 characters तक ही रखें। इससे ज्यादा आपका Title शो नहीं होगा SERP में
  • अपने main keywords को meta description के फर्स्ट 100 Characters में use करें
  • हमेशा Meta Description को 145 से  160 characters के बीच रखें

User-Friendly URL’s का Use करें

हमेशा अपने URL’s को Short एव clean रखें ।  एक्सपर्ट्स के अनुसार Short URL’s हमेशा अच्छा परफॉर्म करते है Long Tail URL’s से |

Dynamic URL’s का जितना हो सके Use न करें क्यूंकि ये User-friendly नहीं होते है

अपनी Website के URL’s को हमेशा Static रखें और उनमे अपने main Keywords का इस्तेमाल करें

Long URL’s हमेशा Google और बाकी के Search Engines को कंफ्यूज करता है की आपका Page किससे सम्बंधित है

  • अच्छे URL का उदाहरण:
  • ख़राब URL का उदाहरण:

अगर आप CMS (Content Management System) use करते है जैसे की WordPress तो उसमे आपको URL’s के बीच में automatically Dates शो होती है इसलिए आपको हमेशा बिना dates वाले URL’s को सेट करना होगा अपनी सेटिंग्स पे जा के.


Heading Tags

Heading Tags बहुत ही ख़ास टास्क होता है On Page Optimization का इसलिए आपको इसका सही इस्तेमाल करना चाहिए अपने Content में|

Heading Tags को Use करने के लिए आपको सबसे पहले अपने Content को सही ढंग से प्रेजेंट करना होगा जैसे की आपको अच्छे से paragraphing करनी होगी अपने आर्टिकल की|

हमेशा अपने Main topic को H1 Tag से सम्बोधित करें एव उसमे अपने main keyword को टारगेट करें

H1 के बाद आप अपनी Sub headings को H2, H3, H4 इत्यादि से नामांकित कर सकते है|


Keyword Density

Keyword Density का मतलब होता है कि आप कितनी बार अपने Keywords का इस्तेमाल करते हो अपने पेज के content में .

हमेशा Keyword Desnity 1.5% से 2% के बीच रखें और अपने main keyword को paragraph की फर्स्ट लाइन और लास्ट लाइन में इस्तेमाल करें.

आप Keyword Density को calculate कर सकते हो नीचे दिए गए फॉर्मूले से:
(Keywords की संख्या / शब्दों की कुल संख्या) * 100

उधारण:

मान लीजिये आपने आपका कोई आर्टिकल 5०० words का है और आप उसमे 15 बार आपने Keyword को use करते हो तो आपकी keyword density हो जाती है 3%

वैसे तो Google कोई Ideal percentage suggest नहीं करता Keyword density के लिए . Google केवल natural content को मानंता है जिसमे आप अच्छे से अपने page के बारे में बता पाओ.


Multimedia Content

बहुत सारे Users ऐसे होते है जिनको लम्बे लम्बे Content पढ़ना पसंद नहीं होता तो आप इसके लिए अच्छी Images एव Videos का प्रयोग कर सकते है Content को अच्छा बनाने के लिए.

ये सीधे आपको Ranking लाने में मदद तो  नहीं करेगा लेकिन users को आपकी site में ज्यादा वक़्त के लिए रहने  के लिए रोक देगा जिससे आपकी Website का bounce rate काफी अच्छा होगा.

बहुत सारे एक्सपर्ट्स के अनुसार Bounce rate एक रैंकिंग फैक्टर है.

यानिकि एक तरह से Multimedia content सीधे न सही indirectly एक ranking factor है और आपकी वेबसाइट के लिए फायदेमंद है.


Internal Linking

Internal Links एक तरह के links होते है जो एक Page से दूसरे Page पे जाते है एक ही Domain के.

Internal Linking एक तरह से आपकी Website की engagement बढ़ाने के लिए इस्तेमाल होता है | इससे Users आपकी Website पे ज्यादा टाइम देगा और आपकी site का Bounce rate काफी अच्छा रहेगा.

Internal linking में जो आप Anchor Text इस्तेमाल करोगे वहां आप अपने keywords use कर सकते है keyword की popularity बढ़ाने के लिए.


Image Optimization

Google Images को पढ़ नहीं पाता इसके लिए हम हमेशा Images में Alt tag का इस्तेमाल करते है ताकि Google जब भी images पे आये  तो वो Alt tag को पढ़ के images का आईडिया लगा सके और उसे Google में rank करवा पाए .

हमेशा अपने keywords को images के Alt tag में इस्तेमाल करें ताकि कोई भी Google पे Keyword search करे तो आपकी images भी rank करें SERP में.

हमेशा images को compress करके upload करें ताकि page की speed पे  फ़र्क़ न पड़े| लेकिन आपको ये भी ध्यान रखना पड़ेगा की image की quality को कोई नुकसान न हो.


Structured Data Markup

Structured Data Markup एक तरह का कोड है जो की Search Engine read करता है एव उसको SERP में display कराता है यूजर की queries के हिसाब से

आप आसानी से इस कोड को अपनी वेबसाइट पे लगा सकते है.

जैसा की आपने SERP में देखा होगा बहुत सारी recipes category sites में star rating शो होती है उसे हम Rich Snippets कहते है जो की Structured Data Markup के अंतर्गत आती है.


जानिये Off Page SEO हिंदी में

जो भी काम हम वेबसाइट के बाहर करते है Search Engine Ranking बढ़ाने के लिए वो सब On Page SEO के अंतर्गत आता है.

Backlinks और Social media share ये common कार्य है Off Page SEO के.

Backlinks बहुत important होते है Google के लिए और किसी भी Web page की value उसके strong backlinks से ही नापी जाती है.


Off Page Techniques

अब हम आपको बताएंगे कुछ Off Page tasks जो आपको मदद करेंगे ranking लाने में एव website authority बनाने में.


Social Bookmarking

Social Bookmarking एक ऐसा ऑनलाइन place है जहाँ आप कोई भी जानकारी या web pages को save रख सकते हो और उसे किसी के साथ भी share कर सकते है

Social media सबसे अच्छा माध्यम है Social bookmarking के लिए जैसे की Facebook, Twitter और Pinterest.

Social Bookmarking के फायदे:
  • Social Bookmarking के माध्यम से हम अपने ब्रांड या बिज़नेस की online presence बढ़ा सकते है.
  • यह आपकी website की indexing प्रोसेस को बढ़ाने में मदद करता है.
  • यह task आपकी domain authority बढ़ाने में भी मदद करता है

Social Bookmarking की मदद से आप अपनी site में Referral traffic ला सकते है ताकि उनसे कुछ leads बन सके.

कुछ Popular Social Bookmarking Sites:
  • Scoop.it
  • Diigo.com
  • Slashot.org
  • Plurk.com
  • Reddit.com
  • Pearltrees.com
  • Folkd.com
  • Mix.com
  • Digg.com
  • Bookmark4you.com

Classified Ad Submission

अगर आप फ्री में अपनी साइट का advertisement करना चाहते है तो आप Classified ad submission technique इस्तेमाल कर सकते है।

बहुत सारी पॉपुलर sites जैसे की quikr.com, olx.in, in.locan.to इनका उपयोग आप इस technique में इस्तेमाल कर सकते हो

Classified Ad submission task सबसे ज्यादा आपको लीडस् लाने में मदद करते है.

कुछ Popular Classified Ad Submission Sites:
  • Craigslist.org
  • Classifiedads.com
  • Click.in
  • Salespider.com
  • Adlandpro.com
  • Expatriates.com
  • Tuffclassified.com
  • Indads.in
  • Clickindia.com
  • Innetads.com

Image Submission

जैसा की आपने Google में देखा होगा बहुत सारी websites के साथ images भी शो होती है वो सब भी ranking में count होते है SERP (Search Engine Results Page) में.

अपनी Images को दूसरी साइट्स में submit करते समय आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा जैसे की :

टिप्स:

  • Images की quality अच्छी हो
  • Images submit करते समय उनके title एव description को अच्छे से optimize करें keywords के साथ
  • Images कहीं से कॉपी करी हुई नहीं होनी चाहिए नहीं तो बहुत सारी submission sites आपकी IP में ओपन होना बंद कर देंगी
  • आखिर में आप अपनी image submission का link भी प्रमोट कर सकते है Social bookmarking एंड Social media के माध्यम से ताकि आपकी images को value मिल सके सर्च इंजन रैंक पर करने के लिए
कुछ Popular Image Submission Sites:
  • Pinterest.com
  • Flickr.com
  • Imgur.com
  • Weheartit.com
  • Pixabay.com
  • Imageshack.com
  • 4shared.com
  • Picasa.google.com
  • Postimages.org
  • Imgbb.com

Article Submission

Article submission सबसे important task होता है Off Page SEO का जहां आप किसी दूसरी site में अपनी website से सम्बंधित content को publish करते है.

इस टास्क को करने के लिए आपको यहाँ ध्यान में रखना होगा की आपका content high quality और unique होना चाहिए.

हर किसी article submission sites के अपने rules होते है minimum words के लिए लेकिन ज्यादातर sites कम से कम 500 words का content मांगती है.

कुछ Popular Article Submission Sites:
  • Articles.h1ad.com
  • Ezinearticles.com
  • Pr4-articles.com
  • 123articleonline.com
  • Articlebiz.com
  • Hubpages.com
  • Sooperarticles.com
  • Articlesfactory.com
  • Apsense.com
  • Articleslist.net

Question and Answer

Questions & Answers website एक सबसे अच्छा तरीका है अपनी website में traffic लाने का।  इस प्लेटफार्म में बहुत सारे users एक दूसरे से questions पूछते है जिसका उत्तर करके आप वहां से अपनी website में traffic divert कर सकते है

कुछ Popular Question & Answer Sites:
  • hi.letsdiskuss.com
  • quora.com
  • theanswerbank.co.uk
  • askdeb.com
  • blurtit.com
  • ask.fm
  • askmehelpdesk.com
  • quesanswer.com
  • answers.com
  • ehow.com

Document Sharing

आप अपने Documents जैसे की PDF/PPT/DOC ऑनलाइन submit कर सकते है जिससे आपको अच्छे Backlinks मिल सके.

इस टास्क से आप अपने users को अपने product एव services के बारे में अच्छे से बता सकते है बहुत ही creative method से.

कुछ Document Sharing Sites:
  • Scribd.com
  • Sliderocket.com
  • Slideboom.com
  • Authorstream.com
  • Slideserve.com
  • Divshare.com
  • Slideworld.com
  • Rapidshare.com
  • Powershow.com
  • Slideshare.net

Guest Posting

Guest Post सबसे सही एव लाभदायक कार्य है Off Page SEO का.

इस तकनीक को इस्तेमाल करके आप अपना content किसी दूसरी site पे पोस्ट कर सकते हो

Guest Post का इस्तेमाल करके आप अपनी site के लिए Do Follow Backlinks ले सकते हो जिससे आपको site को रैंक करने के लिए बढ़ावा मिल जाएगा.

इस कार्य को करने के लिए आपको ये ध्यान देना होगा की आप सिर्फ अपनी website category से संबंधित sites में guest posting करें.

Guest Posting Sites कैसे Find करें:

Guest Posting sites ढूढ़ने के कई तरीके है जैसे की कुछ मैंने निचे दिए हुए है:

  • Your Keyword “write for us”
  • Your Keyword “submit news”
  • Your Keyword “guest post”
  • Your Keyword “contribute to our site”
  • Your Keyword “submit post”
  • Your Keyword “submit article”
  • Your Keyword “submit guest post”
  • Your Keyword “guest author”
  • Your Keyword “submit an article”
  • Your Keyword “become a contributor”

Local Business Directories

Local Business Directories का इस्तेमाल करके आप अपनी site पर traffic एव leads ला सकते हैं.

आपको निचे दी गई बातों का ध्यान रखा होगा जब कभी आप अपनी site को Local business directories में submit करें:

टिप्स:

  • Site का DA (Domain Authority) एव traffic अच्छा होना चाहिए
  • Submit करने से पहले ये ध्यान रहे की वो site आपकी केटेगरी में डील करती है की नहीं
  • अपने बिज़नेस या प्रोडक्ट्स के बारे में अच्छे से जानकारी दे ताकि कोई भी यूजर आपकी लिस्टिंग पे विजिट करे तो उससे उचित information मिल सके
  • उचित Images का इस्तेमाल करें submit करते वक़्त
कुछ Local Business Directory Sites:
  • Yellowpages.com
  • Yelp.com
  • Local.com
  • Expressupdate.com
  • Superpages.com
  • Merchantcircle.com
  • Mapquest.com
  • Foursquare.com
  • Hotfrog.com
  • Angieslist.com

जानिए Organic और Paid Search Results हिंदी में

SERP (Search Engine Result Pages) में हमेशा हमें अपनी queries से संबंधित results शो होते है जो भी Keyword हम search query में डालते है |

SERP में दो तरह के results शो होते है एक Organic और दूसरा Paid Results

एक SEO का goal हमेशा organic search results से ट्रैफिक लाने का होता है जिसके लिए वह On Page और Off Page कार्य करता है |

दूसरी तरफ PPC Experts का Paid search results से leads लाने का goal होता है जिसके लिए उसे per click पे कुछ पैसे खर्च करने होते है |


अंतिम शब्द

आशा करता हूँ की आपको SEO क्या है और कैसे काम करता है इसकी जानकारी हमारे पोस्ट के माध्यम से मिल गयी होगी| अगर आपको हमको हमारा ब्लॉग पसंद आया तो आप इसे सोशल मीडिया में अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें|

अगर आपके पास कोई सुझाव या सवाल है हमारे लिए तो आप नीचे Comment section में हमें बता सकते है।